अपनी बात

मुख्‍य संपादक: डा. आलोक शुक्ला

संपादक: डा. एम. सुधीश

प्यारे दोस्तों,

सभी बच्चों को प्यार। किलोल का पहला अंक आपके हाथों में देकर आज मुझे बेहद खुशी हो रही है। आशा है आपको पसंद आयेगा। मेरा यह मानना है कि मेरे नन्हे साथी बेहद रचनात्मक हैं। उन्हें तलाश है केवल अभिव्यक्ति के अवसर की। ‘किलोल’ को आपके चुटकुलों, लेखों, कहानियों पहेलियों, चित्रों आदि का इंतज़ार है। अपनी रचनायें आप हमें ई-मेल व्दारा dr.alokshukla@gmail.com पर भेज सकते हैं। यह बाल पत्रिका मैंने अपने स्वयं के संसाधनों से प्रारंभ की है। मैने इसे एक ई-पत्रिका के रूप में प्रारंभ किया है। इंटरनेट पर पत्रिका का प्रत्येक अंक मुफ्त डाउनलोड के लिये उपलब्ध रहेगा। आप चाहें तो पत्रिका को डाउनलोड करके मुद्रित कर सकते हैं और अपने स्कूल के बच्चों को पढ़ने के लिये दे सकते हैं। इसके लिये आप पत्रिका को पी.डी.एफ. के रूप में डाउनलोड करें । मोबाइल पर पढ़ने के लिये आप इसे ई-पब फाइल के रूप में भी डाउनलोड कर सकते हें और किसी भी मुफ्त ई-रीडर से अपने मोबाइल पर स्‍वयं भी पढ़ सकते हैं और बच्चों को भी मोबाइल पर पढ़ने के लिये दे सकते हैं।

आलोक शुक्ला

Visitor No. : 2395758
Site Developed and Hosted by Alok Shukla