यह शब्‍दकोश मध्‍यभारत के गोंड समाज ने तैयार क‍िया है और यह उनकी ही धरोहर है

© सीजीनेट स्‍वर फाउंडेशन


अस्‍वीकरण - वेबसाइट इस सामग्री की शुध्‍दता के लिये जिम्‍मेदार नहीं हैं