हमर तिरंगा

भारत की स्‍वतंत्रता की 75 वीं वर्षगांठ पर आप सभी को हार्दिक बधाई. आज का दिन देश के सम्‍मान का दिन है, जिसका सबसे बड़ा प्रतीक हमारा राष्‍ट्रध्‍वज – हमारा तिरंगा है. आज जिस राष्‍ट्रध्‍वज को हम ससम्‍मान फहराते हैं उसे २२ जुलाई, १९४७ को भारत की संविधान-सभा की बैठक में अपनाया गया था.

हमारे प्‍यारे तिरंगे में तीन समान चौड़ाई की क्षैतिज पट्टियाँ हैं. सबसे ऊपर केसरिया रंग की पट्टी जो देश की ताकत और साहस को दर्शाती है. बीच में सफेद पट्टी शांति और सत्य का प्रतीक है. नीचे गहरे हरे रंग की पट्टी देश की खुशहाली को दर्शाती है. सफेद पट्टी के बीचोबीच नीले रंग का एक चक्र है जिसमें २४ तीलियां हैं. यह प्रगति का प्रतीक है. चक्र का व्यास लगभग सफेद पट्टी की चौड़ाई के बराबर होता है. इसका रूप सारनाथ में स्थित अशोक स्तंभ के शेर के शीर्षफलक के चक्र की तरह है. ध्वज की लम्बाई एवं चौड़ाई का अनुपात ३:२ है.

भारत के राष्‍टध्‍वज का इतिहास

भारत का राष्‍ट्रीय ध्‍वज बनाने की योजना सर्वप्रथम वर्ष १८५७ के पहले स्वतंत्रता संग्राम के समय बनी थी. उस समय के ध्‍वज मेरठ के संग्रहालय में आज भी देखे जा सकते हैं. उस समय का एक ध्‍वज हरे रंग का था और उसमें कमल और रोटी बने हुये थे. आंदोलन की असफलता के बाद राष्‍ट्रीय ध्‍वज की योजना भी बीच में ही अटक गई.

१९०४ में स्वामी विवेकानंद की शिष्या भगिनी निवेदिता ने एक ध्‍वज बनाया था. इसे ७ अगस्त, १९०६ को कांग्रेस के अधिवेशन में पारसी बागान चौक (वर्तमान ग्रीन पार्क) कलकत्ता में फहराया गया था. इसमे लाल, पीले और हरे रंग की क्षैतिज पट्टियां थीं. ऊपर की ओर हरी पट्टी में आठ कमल थे और नीचे की लाल पट्टी में सूरज और चाँद बनाए गए थे. बीच की पीली पट्टी पर वन्देमातरम् लिखा था.

भगिनी निवेदिता

व्दितीय ध्वज पेरिस में मैडम भीखाजी कामा और अन्‍य क्रांतिकारियों ने १९०७ में द्वारा फहराया था. इस ध्वज में सबसे ऊपर की पट्टी पर केवल एक कमल था और सात तारे सप्तऋषियों को दर्शाते थे. यह ध्वज बर्लिन में हुए समाजवादी सम्मेलन में भी प्रदर्शित किया गया था.

भीखाजी कामा

वर्ष १९१७ में लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक और डॉ॰ एनी बीसेंट और ने होम रूल आंदोलन के दौरान भारत का तीसरा बनाया. इस ध्वज में ५ लाल और ४ हरी क्षैतिज पट्टियाँ और सप्तऋषि के सात सितारे बने थे. ऊपरी किनारे पर बायीं ओर यूनियन जैक भी था. एक कोने में सफेद अर्धचंद्र और सितारा था.

लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक

डॉ॰ एनी बीसेंट

कांग्रेस के बेजवाड़ा (विजयवाड़ा) सत्र में आंध्र प्रदेश के पिंगली वैंकैया ने एक झंडा गांधी जी को दिया. यह दो रंगों का बना था. इसमें लाल रंग हिन्दूओं हरा रंग मुस्लिमों का प्रतिनिधित्व करता था. गांधी जी ने सुझाव दिया कि भारत के शेष समुदाय का प्रतिनिधित्व करने के लिए इसमें एक सफेद पट्टी और राष्ट्र की प्रगति का संकेत देने के लिए एक चलता हुआ चरखा होना चाहिए.

पिंगली वैंकैया और उनका ध्‍वज

वर्ष १९३१ तिरंगे के इतिहास में एक अविस्मरणीय है. इसी वर्ष तिरंगे ध्वज को भारत के राष्ट्रीय ध्वज के रूप में अपनाने के लिए एक प्रस्ताव पारित किया गया. यह ध्वज जो वर्तमान स्वरूप का पूर्वज है, केसरिया, सफेद और मध्य में गांधी जी के चलते हुए चरखे के साथ था. यह भी स्पष्ट रूप से बताया गया था कि इसका कोई साम्प्रदायिक महत्त्व नहीं है.

२२ जुलाई १९४७ को संविधान सभा ने वर्तमान ध्वज को भारतीय राष्ट्रीय ध्वज के रूप में अपनाया. इसमें चरखे की जगह अशोक चक्र डॉ॰ बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर ने लगवाया था.

18

Add Your Comments Here

Comments :

Harshita reddy On: 27/08/2022

Happy independence day

Harshita reddy On: 27/08/2022

Happy independence day

Harshita reddy On: 27/08/2022

Happy independence day

Harshita reddy On: 27/08/2022

Happy independence day

Harshita reddy On: 27/08/2022

Happy independence day

Khushbu Rai On: 18/08/2022

Very nice article about National Flag sir ji

Samresh Kumar Pateria On: 15/08/2022

Happy Independence Day Sirji JayHind

Dr Gambhir Singh thakur On: 15/08/2022

Happy Independence Day sir Yr script is educational for all Indians Thanks

Dr Gambhir Singh thakur On: 15/08/2022

Happy Independence Day sir Yr script is educational for all Indians Thanks

Dr Gambhir Singh thakur On: 15/08/2022

Happy Independence Day sir Yr script is educational for all Indians Thanks

Arvind Kumar Pandey On: 15/08/2022

बहुत सुंदर ज्ञानवर्धक लेख। निवेदन है ,कि इस प्रकार के लेख सीधे स्कूली बच्चों तक पहुँच सके,इस दिशा में प्रयास होना चाहिये। बहुत बहुत बधाई और साधुवाद सर

Dr Amit Ashok Rangari On: 15/08/2022

Happy Independence Day Sir

Anima Upadhyay On: 14/08/2022

Informative article about the Tricolour.

Anima Upadhyay On: 14/08/2022

Informative article about the Tricolour.

vineeth samkutty On: 14/08/2022

Sir Thanks for the information

vineeth samkutty On: 14/08/2022

Sir Thanks for the information

vineeth samkutty On: 14/08/2022

Proud to be an Indian,Salute to our mother land. Sir Thanks for th

Sushil Rathod On: 14/08/2022

हमारे जीवन में ऐसी कुछ वस्तुएं भी हैं जिनकी अपनी प्रतीकात्मक सुंदरता, मूल्य और महत्ता है। पता नहीं चलता कि कब वे वस्तु से भावना में तब्दील हो जाते हैं, ठीक किसी ठोस से तरल फ़िर विरल की तरह। इनमें से एक ध्वज भी है। यह लेख इसके क्रमिक विकसित स्वरूप की तथ्यपरक जानकारी देता है। मेरी दृष्टि से लेख की सार्थकता तब होती है जब वह आपमें जिज्ञासा पैदा कर दे जैसा कि इस लेख को पढ़ने के बाद मैं स्वयं में महसूस कर पाता हूं कि अलग अलग समय में विकसित उन ध्वजों के रंगों, उन पर अंकित संकेतो के पीछे आखिर क्या सोच रही होगी। उस चिंतन से परिचित होना निःसंदेह दिलचस्प होगा। इस सुंदर, सामयिक लेख के लिए आदरणीय सर को धन्यवाद! 🙏 सुशील राठोड़

Madhu verma On: 14/08/2022

Jai Hind

ramprakash mire On: 14/08/2022

हमारा देश भारत की पहचान यह तिरंगा झंडा है। इसकी मान, शान और सम्मान हर भारत वासी को गर्व के साथ हर हाथ में तिरंगा ध्वज फहराया जाना है। विश्व में भारत की कोई पहचान है तो वह हमारा राष्ट्र ध्वज तिरंगा झंडा है। जो सदैव उच्च रहेगा। चाहे कश्मीर से कन्याकुमारी तक। जय हिन्द, वंदे मातरम्। हमारा देश तिरंगा एकता, देश प्रेम और विश्वास, भाई चारा को दर्शाता है।

ramprakash mire On: 14/08/2022

हमारा देश भारत की पहचान यह तिरंगा झंडा है। इसकी मान, शान और सम्मान हर भारत वासी को गर्व के साथ हर हाथ में तिरंगा ध्वज फहराया जाना है। विश्व में भारत की कोई पहचान है तो वह हमारा राष्ट्र ध्वज तिरंगा झंडा है। जो सदैव उच्च रहेगा। चाहे कश्मीर से कन्याकुमारी तक। जय हिन्द, वंदे मातरम्। हमारा देश तिरंगा एकता, देश प्रेम और विश्वास, भाई चारा को दर्शाता है।

ramprakash mire On: 14/08/2022

हमारा देश भारत की पहचान यह तिरंगा झंडा है। इसकी मान, शान और सम्मान हर भारत वासी को गर्व के साथ हर हाथ में तिरंगा ध्वज फहराया जाना है। विश्व में भारत की कोई पहचान है तो वह हमारा राष्ट्र ध्वज तिरंगा झंडा है। जो सदैव उच्च रहेगा। चाहे कश्मीर से कन्याकुमारी तक। जय हिन्द, वंदे मातरम्। हमारा देश तिरंगा एकता, देश प्रेम और विश्वास, भाई चारा को दर्शाता है।

ramprakash mire On: 14/08/2022

हमारा देश भारत की पहचान यह तिरंगा झंडा है। इसकी मान, शान और सम्मान हर भारत वासी को गर्व के साथ हर हाथ में तिरंगा ध्वज फहराया जाना है। विश्व में भारत की कोई पहचान है तो वह हमारा राष्ट्र ध्वज तिरंगा झंडा है। जो सदैव उच्च रहेगा। चाहे कश्मीर से कन्याकुमारी तक। जय हिन्द, वंदे मातरम्। हमारा देश तिरंगा एकता, देश प्रेम और विश्वास, भाई चारा को दर्शाता है।

ramprakash mire On: 14/08/2022

हमारा देश भारत की पहचान यह तिरंगा झंडा है। इसकी मान, शान और सम्मान हर भारत वासी को गर्व के साथ हर हाथ में तिरंगा ध्वज फहराया जाना है। विश्व में भारत की कोई पहचान है तो वह हमारा राष्ट्र ध्वज तिरंगा झंडा है। जो सदैव उच्च रहेगा। चाहे कश्मीर से कन्याकुमारी तक। जय हिन्द, वंदे मातरम्। हमारा देश तिरंगा एकता, देश प्रेम और विश्वास, भाई चारा को दर्शाता है।

ramprakash mire On: 14/08/2022

हमारा देश भारत की पहचान यह तिरंगा झंडा है। इसकी मान, शान और सम्मान हर भारत वासी को गर्व के साथ हर हाथ में तिरंगा ध्वज फहराया जाना है। विश्व में भारत की कोई पहचान है तो वह हमारा राष्ट्र ध्वज तिरंगा झंडा है। जो सदैव उच्च रहेगा। चाहे कश्मीर से कन्याकुमारी तक। जय हिन्द, वंदे मातरम्। हमारा देश तिरंगा एकता, देश प्रेम और विश्वास, भाई चारा को दर्शाता है।

ramprakash mire On: 14/08/2022

हमारा देश भारत की पहचान यह तिरंगा झंडा है। इसकी मान, शान और सम्मान हर भारत वासी को गर्व के साथ हर हाथ में तिरंगा ध्वज फहराया जाना है। विश्व में भारत की कोई पहचान है तो वह हमारा राष्ट्र ध्वज तिरंगा झंडा है। जो सदैव उच्च रहेगा। चाहे कश्मीर से कन्याकुमारी तक। जय हिन्द, वंदे मातरम्। हमारा देश तिरंगा एकता, देश प्रेम और विश्वास, भाई चारा को दर्शाता है।

Dinesh Kumar Tank On: 14/08/2022

आदरणीय सर, महत्वपूर्ण और ज्ञानवर्धक लेख के लिए हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई 🇮🇳🙏🇮🇳

Suresh Kumar Bhalla On: 14/08/2022

Jai Hind

Aadi lakxmi On: 14/08/2022

Jai hind I paraud be indian

Kakoli Choudhary On: 14/08/2022

Jai Hind 🇮🇳 Salut e to our Mother land India & great leaders

Kakoli Choudhary On: 14/08/2022

Jai Hind 🇮🇳 Salut e to our Mother land India & great leaders

दिनेश कुमार चंद्राकर On: 14/08/2022

Rashtriy rashtriy Dhwaj ke bare mein jankari राष्ट्रीय ध्वज की जानकारी ज्ञानवर्धक है शुक्ला सर को कोटि धन्यवाद स्वतंत्रता के पूर्व संध्या की बधाई

R JYOTI On: 14/08/2022

happy independen day😍

Ashwini sharma On: 14/08/2022

Congratulation sir,you are our role model .sir your imformation is very inspirnational congratulation to you sir in advance.el

श्रीमती कीर्ति श्रीवास्तव On: 14/08/2022

ज्ञानवर्धक जानकारी मिली प्रणाम सर जय हिंद जय छत्तीसगढ़

Vipin kumar tiwari On: 14/08/2022

Sahi knowledge diye guruji Pranam

Ashwini sharma On: 14/08/2022

Sir many many congratulation to you on the 75(Aajadi ka amrit mhotsav varsh)Aniversary of independenceday,you are

Dr Ravindra Nath Mishra On: 14/08/2022

सादर प्रणाम एवं साधुवाद । अध्ययन की भावना हेतु प्रेरणादायक जानकारी ।

PrAchi rout On: 14/08/2022

Jai hind

PrAchi rout On: 14/08/2022

Jai hind

जय प़काश पाण्डेय On: 14/08/2022

जय हिन्द

जय प़काश पाण्डेय On: 14/08/2022

जय हिन्द

Amit Ghosh On: 14/08/2022

excellent sir valuable knowledge

Paramjeet On: 14/08/2022

बहुत ज्ञानवर्धक जानकारी 🙏🙏

श्रीमती नीता भट्ट On: 14/08/2022

बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी सर

satyanarayan panda On: 14/08/2022

खोजपरक, विस्तृत तथ्यात्मक ,उपयोगी जानकारी के लिए बधाइयां सर

Yugal kishor sahu On: 14/08/2022

बहुत ही सुंदर जानकारी ,,🙏🙏

Atul shukla On: 14/08/2022

बहुत सुंदर जानकारी सर हमें तिरंगा का इतिहास जानने मिला

Visitor No. : 4653166
Site Developed and Hosted by Alok Shukla