History, Constitution and Public Administration
इतिहास,संविधान एवं लोक प्रशासन
Solved Papers - हल किए हुए प्रश्‍न पत्र
2015
उत्‍तर देखने के लिए प्रश्‍न पर क्लिक करें. Please click on the Question to see the Answer

खण्ड - 1

Section -1

(उत्त‍र शब्द सीमा -30, अंक -02)

भाग – 1

  1. सिन्धु सभ्यता के उत्तरी भाग में स्थित किसी एक पुरास्थल के विषय में उल्लेख कीजिए।


    Mention about any one archaeological site of the Indus Valley Civilization that is situated in the northern quarters.

  2. बौध्दधर्म की चार समितियां किन-किन स्थलो पर सम्पन्न हुई, क्रमानुसार उल्लेख करें।


    Mention the four Buddhist Councils in chronological order, with places.

  3. बाह्य साक्ष्यों के आधार पर मौर्यकालीन पाटिलीपुत्र के नगर प्रशासन का वर्णन कीजिए।


    Describe the town administration of Patiliputra in Mauryan period on the basis of foreign evidence.

  4. ईस्ट‍ इंडिया कम्पनी की नीति ने भारतीय दस्तकारों का विनाश कैसे किया। स्पष्ट कीजिए।


    The policies of East India Company led to downfall of the Indian artisans. Discuss.

भाग-2

  1. भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना में ए.ओ. ह्यूम की क्या भूमिका थीॽ


    What was the role of A.O. Hume in the foundation of Indian National Congress?

  2. खुदीराम बोस और प्रफुल्ल चाकी कौन थेॽ


    Who were Khudiram Bose and Prafulla Chaki?

  3. तात्या टोपे का अंत किस प्रकार हुआॽ


    How did Tatya Tope meet his end?

  4. राजा राममोहन राय के निधन के पश्चात् ब्रह्मसमाज में आगे और क्या विभाजन हुएॽ


    What further divisions took place in the Brahma Samaj after the demise of Raja Ram Mohan Roy?

भाग-3

  1. महारानी वासटा का मुख्य योगदान क्या थाॽ


    What was the main contribution of Queen Vasata?

  2. कलचुरि शासक रत्न देव प्रथम की उपलब्धि बतलाइयेॽ


    What was the achievement of kalchuri ruler Ratndeo first?

  3. ‘छत्ती़सगढ़ मित्र’ नामक समाचार पत्र का प्रकाशन किसने कब और कहां से कियाॽ


    By whom, when and from where the newspaper named ‘Chhattisgarh Mitra’ was published?

  4. बस्तर के कोई विद्रोह पर टीका लिखिएॽ


    Write a comment on the ‘Koi Revolt’ of the Bastar.

भाग-4

  1. भारत सरकार अधिनियम 1935 का क्या महत्व हैॽ


    What is the importance of the Government of India Act 1935?

  2. महाधिवक्ता की भूमिका समझाइयेॽ


    Explain the role of Advocate General.

  3. अनुच्छेद 356 पर एक टिप्पणी लिखिएॽ


    Write a note on Article 356.

  4. पंचायती राज संस्थाओं के विभिन्न स्तरों की विवेचना कीजिएॽ


    Discuss the various levels of Panchayati Raj institutions.

भाग-5

  1. सूत्र अभिकरण की परिभाषा दीजिए।


    Define the Line Agency.
  2. तुलनात्मक लोक प्रशासन की प्रकृति को स्पष्ट कीजिए।


    Explain the nature of comparative Public Administration.

  3. प्रशासन पर विधाई नियंत्रण की विधियां कौन सी हैंॽ


    What are the methods of legislative control over administration?

  4. जिला या जनपद प्रशासन का क्या अर्थ हैॽ


    What is the meaning of District Administration?

खण्ड-2

Section-2

(उत्त‍र की शब्द सीमा – 60, अंक -04)

भाग – 1

  1. नेहरू रिपोर्ट भारतीय राजनीतिक इतिहास में राष्ट्र वादियों का प्रामाणिक दस्तावेज़ है। स्पष्ट कीजिए।


    Nehru Report constitutes to be the authentic expression of the Nationalists in Indian Political History? Explain.

  2. गुप्त काल में ‘विज्ञान की प्रगति’ पर टिप्पणी लिखिए।


    Write a note on the progress of science during the Gupta period.

भाग -2

  1. सविनय अवज्ञा आन्दोलन आरम्भ करने के पूर्व महात्मा गांधी ने वाइसराय, लार्ड इर्विन के समक्ष कौन सी 11 मांगें रखींॽ


    What 11 demands Mahatma Gandhi put before Viceroy Lord Irvin before launching the Civil Disobedience Movement?
  2. 1857 के विद्रोह के स्वरूप और चरित्र का वर्णन कीजिए।


    Describe the nature and character of 1857 revolt.

भाग-3

  1. समुद्रगुप्त की छत्तीासगढ़ विजय को प्रमाण सहित रेखांकित कीजिए।


    Trace the conquest of Chhattisgarh by Samudragupta with evidence.

  2. महात्मा गांधी व्दारा दूसरी बार छत्तीवसगढ़ प्रवास का विवरण दीजिए।


    Give an account of Mahatma Gandhi’s second visit of Chhattisgarh.

भाग-4

  1. भारतीय संविधान में सहकारी संघवाद के क्या तत्व हैंॽ


    What are the elements of cooperative federalism in Indian Constitution?
  2. छत्तीसगढ़ में लोकायुक्त की भूमिका की विवचना कीजिए।


    Discuss the role of Lokayukta in Chhattisgarh.

भाग-5

  1. भारत में सहकारी संघ के प्रमुख यंत्र क्या हैंॽ


    What are the major instruments of cooperative federalism in India?
  2. मेस्लो के अभिप्रेरण सिध्दांत की किन आधारों पर आलोचना की गई हैंॽ


    Maslow’s theory of motivation has been criticised on which ground?

खण्ड-3

Section-3

(उत्त‍र शब्द सीमा – 100, अंक -08)

भाग-1

  1. कोटिल्य के सप्तांग राज्य सिध्दांत का विश्लेषण कीजिए। आधुनिक भारतीय राजनीति में उनके किस-किस अंगों का अनुकरण किया जाता हैॽ


    Analyse ‘Saptang Theory of Kautilya’. What is simulation of the part in Modern Indian Politics?

भाग -2

  1. रियासतों के विलीनीकरण में सरदार पटेल के योगदान को लिखिए।


    What is the contribution of Sardar Patel in the integration of princely states?

भाग-3

  1. 1858 ई. के प्रारंभ में रायपुर में हुए सिपाही विद्रोह का वर्णन कीजिए।


    Describe the ‘Sepoy Revolt’ occured at Raipur in the beginning of 1858 A.D.

भाग- 4

  1. ‘भारतीय संविधान में दिए गए मौलिक अधिकार निरपेक्ष नहीं हैं’ इस कथन का परीक्षण कीजिए।


    ‘Fundamental Right given in the Indian Constitution are not absolute’, examine this statement.

भाग-5

  1. ‘सूचना का अधिकार एक सफल तथा प्रभावी प्रजातंत्र की आवश्यक शर्त है’ व्यााख्या कीजिए।


    ‘Right to Information is a necessary condition of a successful and effective democracy’. Discuss.

खण्ड – 4

Section-4

(उत्त‍र शब्द सीमा – 250, अंक – 20)

(इस खण्ड में विभिन्न भागों से कुल 03 प्रश्न दिए जाएंगे। अभ्यर्थी को इनमें से कोई 02 उत्तर देने होंगे)

भाग – 1

  1. शिवाजी के उत्थान का संक्षिप्त परिचय दीजिए। उनके i) लक्ष्यों ii) नीतियों और iii) सफलता का मूल्यांकन कीजिए


    Give a brief introduction of the rise of Shivaji. Evaluate his i) aims ii) policies and iii) success

भाग -2

  1. भारत में हुए i) आदिवासी आन्दोलनो का वर्णन करते हुए ii) बिरसा मुण्डा के योगदान को लिखिए


    Describe the i) Tribal Movements in India and ii) Contribution of Birsa Munda

भाग-5

  1. संसदीय प्रजातंत्र की परिभाषा दीजिए तथा भारत में सरकार के संसदीय प्रतिमान की प्रासंगिकता का विश्लेषण कीजिए।


    Define parliamentary democracy and analyse the relevance of parliamentary model of Government in India.

खण्ड – 5

Section-5

(उत्त‍र शब्द सीमा – 500 अंक‍ - 40)

(इस खण्ड में विभिन्न भागों से कुल 02 प्रश्न दिए जाएंगे। अभ्यर्थी को इनमें से कोई 01 उत्तर देने होंगे)

भाग – 3

    1. कलचुरि कालीन छत्तीसगढ़ की समाजिक विशेषताएं क्या थींॽ


      What were the social characteristics of Chhattisgarh during Kalchuri period?

    2. कलचुरि कालीन छत्तीासगढ़ की अर्थव्यवस्था का विवरण दीजिए।


      Give an account of the economy of Chhattisgarh during the Kalchuri period.

    3. स्थापत्य के क्षेत्र में कलचुरियों का येागदान क्या थाॽ


      What was the contribution of the Kalchuri’s in the field of architecture?

भाग – 4

    1. विकेन्द्रीकरण का क्या आशय हैॽ यह कहना कहां तक उपयुक्त है कि छत्तीसगढ़ में पंचायती राज संस्थाओं ने वि‍केन्द्रीकरण के लक्ष्यों को प्राप्त कर लिया हैॽ


      What is the meaning of Decentralization? How far is it correct to say that Panchayati Raj institutions in Chhattisgarh have achieved the goals of decentralization?
    2. राष्ट्रीय न्यायिक नियुक्ति आयोग के संरचना एवं कार्यों का विवेचन कीजिए। इसके पक्ष एवं विपक्ष में दिए जा रहे तर्कों का उल्लेख कीजिए।


      Discuss the composition and functions of the National Judicial Appointments Commission. Explain the arguments given in favour and against it.

Visitor No. : 602362
Site Developed and Hosted by Alok Shukla